किसान अधिकार दिवस: UP, चंडीगढ़ में कांग्रेसियों की गिरफ्तारी, राहुल बोले- माया टूटने वाली है!

कांग्रेस पार्टी ने आज सभी स्टेट यूनिटों को राज भवनों और केंद्रशासित प्रदेशों में एलजी हाउसेज को घेरने का निर्देश दिया था.पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अन्य वरिष्ठ नेताओं के साथ दिल्ली प्रदेश कांग्रेस समिति की ओर से आयोजित प्रदर्शन में शामिल हुए.

Read More

रिटायर्ड अफसरों का पत्र योगी के लिए शर्मनाक, सेवारत अधिकारी भी उठाएं आवाज़: शाहनवाज़

शाहनवाज़ आलम ने सेवानिवृत्त अफसरशाहों द्वारा अंतर्धार्मिक विवाह करने वाले जोड़ों के बजरंग दल और पुलिस की मिलीभगत से किये जा रहे उत्पीड़न में शामिल पुलिस अधिकारियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई की मांग का समर्थन किया।

Read More

UP: हाथरस कांड में इंसाफ के लिए ‘दलित संकल्प यात्रा’ निकाल रहे कई कांग्रेसी गिरफ्तार

दलित कांग्रेस सहारनपुर जिला अध्यक्ष और पूर्व जिला अध्यक्ष लोकेश कटारिया को पुलिस ने सुबह से हाउस अरेस्ट किया है. वहीं, मेरठ दलित कांग्रेस जिला अध्यक्ष राहुल फंफूदा को मेरठ पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

Read More

राष्ट्रपति भवन तक कांग्रेस के मार्च को नहीं मिली इजाज़त, प्रियंका सहित कई नेता गिरफ्तार

आज सुबह राहुल गाँधी ने कांग्रेस मुख्यालय में अपने उन सांसदों से मुलाकात की जिनके साथ वे राष्ट्रपति भवन तक जाना चाहते थे। राष्ट्रपति भवन तक ले जाने के लिए दो मिनी ट्रकों में रखे गए पौने दो करोड़ किसानों के हस्ताक्षर कांग्रेस राष्ट्रपति को सौंपना चाहती थी। मार्च की इजाजत न मिलने और कांग्रेस मुख्यालय के बाहर धारा 144 लगाए जाने से ये दोनों ट्रक फिलहाल वहीं खड़े हैं।

Read More

जम्मू और कश्मीर: जिला परिषद के चुनाव में 74 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी बनी BJP

अब तक मिले नतीजों के मुताबिक गुपकार गठबंधन ने 25 सीट पर जीत दर्ज की है जबकि वे 95 पर आगे है. बीजेपी 5 पर जीत दर्ज की है जबकि वे 54 पर आगे है. कांग्रेस ने अब तक 4 सीट जीती है और वे 19 पर आगे है.

Read More

बात बोलेगी: जीत के सौ अभिभावक और हार का अनाथ हो जाना

क्या बिहार के चुनाव में उन मुद्दों का कोई मतलब नहीं था, जिनसे राष्ट्रीय राजनीति की दशा-दिशा बनती बिगड़ती है? इन मुद्दों को उठाने की कीमत कांग्रेस ने न केवल बिहार, बल्कि तमाम राज्यों में चुकायी है, लेकिन प्रादेशिक चुनाव को महज़ स्थानीय तो नहीं बनाया जा सकता है न?

Read More

कमल शुक्ला पर हमले में पत्रकारिता भी घायल हुई है!

कमल शुक्ला पर हमले को लेकर यह सवाल बार-बार पूछा जाता है कि क्या इस घटना को रोका जा सकता था? जवाब मिलता है ‘हां’, रोका जा सकता था! इय हमले की जांच के लिए गठित पत्रकारों की उच्चस्तरीय कमेटी की रिपोर्ट कहती है कि दरअसल यह घटना सोशल मीडिया पर छिड़े महीने भर पुराने एक विवाद का परिणाम थी जिस विवाद में कमल शुक्ला, सतीश यादव, कलेक्टर कांकेर और कमल शुक्ला पर हमला बोलने वाले शामिल थे।

Read More

राग दरबारी: यह कांग्रेस का संकट है या सभी पार्टियों का बराबर संकट?

सवाल यह है ही नहीं कि कांग्रेस को बचाया जा सकता था. यहां सवाल यह था कि कांग्रेस किस जाति या समुदाय के साथ गठबंधन करती जिससे कि उसकी डूबती हुई लुटिया को बचाया जा सकता था? क्या उस डूबती हुई नैया को पूरी तरह डुबाने का श्रेय राहुल गांधी को दिया जाना चाहिए? शायद यह कहना राहुल गांधी के साथ नाइंसाफी होगी.

Read More

आधी रात खेला यूपी सरकार ने दांव, काग़ज़ी जंग में फंस गयीं कांग्रेस की बसें, मजदूर सड़क पर

16 मई को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के भेजे पत्र पर यूपी सरकार केवल काग़ज़ी खानापूर्ति करने में लगी थी

Read More

राग दरबारी: विकास के वैकल्पिक मॉडल पर भारत में चर्चा क्यों ठप है?

हमारे देश के अधिसंख्य ‘बुद्धिजीवी’ इसी मोड में हैं कि उन्हें आज भी यह कहने में कोई गुरेज़ नहीं है कि मोदी जी के नेतृत्व में ही कोरोना से जंग जीती जा सकती है!

Read More