महिला सशक्तिकरण हासिल करने के लिए अभी लंबा रास्ता तय करना है

हैदराबाद में हुई एक घटना जहां एक महिला डॉक्टर के साथ उस समय बलात्कार किया गया जब वह अपने काम से लौट रही थी, इस बात का प्रमाण है कि भारत में महिलाएं नौकरी करने के लिए आज भी सुरक्षित नहीं हैं। ऐसी घटनाएं दूसरी महिलाओं को नौकरी या करियर के बारे में कुछ भी तय करने से पहले दो बार सोचने पर मजबूर कर देती हैं।

Read More

महिला-मुक्ति और सम्मान का सवाल श्रम की मुक्ति के साथ नत्थी है, इसे नहीं भूलना चाहिए

आजादी के बाद समझौतावादी धारा का समर्थक धनी, पूंजीपति वर्ग सत्ता में आने के बाद निहित वर्ग-स्वार्थ के कारण महिलाओं की मुक्ति की दिशा में ठोस कदम उठाने से हमेशा परहेज करता रहा।

Read More