राग दरबारी: चुनी हुई कोई भी सरकार कानून वापस नहीं लेती, इसीलिए सरकारों को हटाना पड़ता है!

यह पहली बार नहीं है कि सरकार आंदोलनकारियों की बातों के प्रति इतनी बेरूखी से पेश आ रही है। पिछले तीस वर्षों के भारतीय राजनीतिक इतिहास पर गौर करें, तो हम पाते हैं कि सरकार चाहे जो भी हो एक बार जब कोई बिल पास करवा लेती है या फिर वैसा कोई निर्णय ले लेती है तो उससे पीछे नहीं हटती है, भले ही जनता जो भी मांग करती हो या फिर विपक्षी दल उसका जिस रूप में भी विरोध कर रहे हों।

Read More

छत्तीसगढ़: गेवरा स्टेशन से यात्री ट्रेन संचालन के लिए प्रदर्शन

बुधवार को जैसे ही मालगाड़ी रोकने के लिए इस क्षेत्र के नागरिक रैली बनाकर निकले, पुलिस और जिला प्रशासन के अधिकारियों द्वारा उन्हें इमलीछापर में रोक लिया गया, जिसके बाद आंदोलनकारी सड़क जाम कर बैठ गए और जोरदार नारेबाजी करने लगे। गेवरा से ट्रेनें न चलने के लिए रेल प्रशासन द्वारा कल राज्य सरकार को जिम्मेदार बताने के बाद वह बैकफुट पर दिखी।

Read More

अल्पसंख्यक अधिकार दिवस: आज देश को कामरेड सत्यनारायण सिंह जैसे नेतृत्व की ज़रूरत है!

सेमिनार को संबोधित करते हुए सीपीआई(एम) पोलितब्यूरो सदस्य एवं पूर्व सांसद सुभाषिनी अली ने कहा कि देश और उत्तर प्रदेश में मानवाधिकारों पर खुला और बर्बर हमला इसलिए हो रहा है क्योंकि आज जो भारतीय जनता पार्टी शासन कर रही है उसने और उसके मार्ग निर्देशक संगठन आरएसएस ने कभी भी भारत के संविधान को मन से नहीं माना।

Read More

सिंगरौली: मजदूर नेता रामलल्लू गुप्ता और अन्य के खिलाफ़ FIR

दोपहर के 13:15 के आसपास जिले के महाजन मोड़ से कलेक्ट्रेट कार्यालय तक अपने करीब छह से सात साथियों के साथ शारीरिक दूरी व माहामारी नियमों का अनुपालन करते हुए जिलाधिकारी को ज्ञापन देने कार्यालय के गेट पर गुप्ता पहुंचे ही थे कि निरीक्षक अरुण कुमार पाण्डेय ने सबको हिरासत में ले लिया.

Read More