पर्यावरण बचाने की लड़ाई एक नयी दुनिया बनाने की लड़ाई है

आज विश्व पर्यावरण दिवस है। आज हमें ये मौका मिला है कि प्रकृति के साथ हमारे रिश्ते का आकलन करें– एक सामूहिकता बनाने के लिए इन पहलुओं को समझें। इंसान …

Read More

छह वर्ष से कम उम्र के बच्चों के सार्वजनिक शिक्षा एवं स्वास्थ्य के लिए बजट आवंटन हो

6 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के अधिकारों की अनदेखी एवं मौजूदा दौर की चुनौतियों पर आयोजित वेबिनार में वक्ताओं की राय

Read More

मोदी सरकार की स्वामित्व योजना: गांवों को भी टैक्स के दायरे में लाने की तैयारी

पंचायती राज दिवस के मौके पर 24 अप्रैल, 2020 को प्रधानमंत्री मोदी ने देश के ग्राम प्रधानों को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये सम्बोधित किया था। इस मौके पर प्रधानमंत्री जी …

Read More

‘यातना गृह’ हैं छत्तीसगढ़ के क्वारंटीन केंद्र, CPM ने लगाये बदइंतज़ामी के गम्भीर आरोप

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में चलाये जा रहे क्वारंटीन सेंटर्स को ‘यातना गृह’ करार देते हुए आरोप लगाया है कि बुनियादी मानवीय सुविधाओं से रहित इन …

Read More

लॉकडाउन के बाद किसानों की कमर तोड़ने आ रहे हैं टिड्डे, समझिए टिड्डी दलों का विज्ञान

यह समझना कि टिड्डी दल कैसे बनते हैं तथा उसे कैसे अलग किया जा सकता है, एक महत्वपूर्ण सवाल है।

Read More

बहुजन समाज के लिए उच्च शिक्षा के दरवाजे बंद करने की तैयारी है ऑनलाइन ओपेन बुक परीक्षा

जब भारत का कमजोर और बहुजन तबका भयानक त्रासदी से गुजर रहा है तब उनके बच्चों को ऑनलाइन ओपेन बुक परीक्षा देने को कहा जा रहा है

Read More

मोदी कैबिनेट के अध्यादेश लागू हुए तो कंपनियों के गुलाम हो जाएंगे किसान

सच्चाई यह है मोदी सरकार के इन निर्णयों से न तो किसानों को कोई फायदा होने जा रहा है और न देश की आम जनता को

Read More

इंदौर: वायरस की आड़ में और बढ़ा भ्रष्टाचार और दमन, राजनीतिक दलों का आरोप

भाकपा, माकपा, समाजवादी पार्टी, सोशलिस्ट पार्टी, अखिल भारतीय प्रगतिशील लेखक संघ, भारतीय महिला फेडरेशन (मध्य प्रदेश), आज़ादी बचाओ आंदोलन ने संभागायुक्त को दिया ज्ञापन, लॉकडाउन के बाद उपजी समस्याओं एवं …

Read More

बासु चटर्जी: एक रचनाकार का अस्तित्ववादी द्वंद्व

फिल्मकार बासु चटर्जी का आज निधन हो गया। कुछ दिन पहले ही नये भारतीय सिनेमा पर विचार करते हुए मूर्धन्य सिने आलोचक विद्यार्थी चटर्जी ने बासु चटर्जी के सिनेमा पर …

Read More

जान ख़तरे में है इंसान की, फिर क्या जल्दी है आस्था के प्रदर्शन की?

क्या हम कभी इसके पीछे की तर्कप्रणाली को जान सकेंगे कि जब मुल्क में कोविड-19 संक्रमण के महज 500 मामले थे तो मुल्क के कर्णधारों ने दुनिया में सबसे सख्त …

Read More